दिल्ली बार कौंसिल के नवनिर्वाचित चेयरमैन श्री राकेश सेहरावत का किया गया हार्दिक अभिनंदन।                     हिन्दु मुसलमानों से अगर कुछ सीख लेते,तो उनको दुर्दिन न देखने पड़ते। -अश्विनी भाटिया                     आर एस चौधरी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा जरूरतमंद लोगों को फ्री राशन और राखी का वितरण।                     देश विभाजन और लाखों लोगों की हत्या के जिम्मेदार गांधी-नेहरू और जिन्ना को हम कभी माफ नहीं करेंगे। -अश्विनी भाटिया आज 15 अगस्त है।आज से 74 वर्ष पूर्व जहां भारत को अंग्रेजी साम्राज्य से मुक्ति मिली,वहीं भारत को विभाजन का दर्द भी मिला।                      ममता ने सभी संवैधानिक मर्यादाओं को किया तार -तार।बंगाल की हिंसा को सरकार का संरक्षण।- विजयवर्गीय                     
15/08/2021 

देश विभाजन और लाखों लोगों की हत्या के जिम्मेदार गांधी-नेहरू और जिन्ना को हम कभी माफ नहीं करेंगे। -अश्विनी भाटिया आज 15 अगस्त है।आज से 74 वर्ष पूर्व जहां भारत को अंग्रेजी साम्राज्य से मुक्ति मिली,वहीं भारत को विभाजन का दर्द भी मिला।

देश को धार्मिक हिन्दू- मुस्लिम आधार पर दो टुकड़ों में विभाजित करवाने के जिम्मेदार नेहरू और मोहम्मद अली जिन्ना को जहां राजसत्ता मिली वहीं करोड़ों लोगों को अपने ही देश में शरणार्थी बन जाने कीअंतहीन पीड़ा मिली। जहां भारत को विदेशी शासन से मुक्त होने की खुशी तो मिली परंतु,देश को विभाजन का दर्द भी मिला।उस समय कांग्रेस के नेता सत्ता पाने की लालसा में इतने स्वार्थी हो गए थे कि उन्होंने देश के विभाजन के पाप को भी कर डाला। भारत के विभाजन के दोषी कांग्रेस, गांधी,नेहरू और जिन्ना ही माने जाएंगे।विभाजन के कारण करोड़ों लोगों को अपनी जन्मभूमि को छोड़ने को मजबूर कर दिया गया।

जेहादियों ने हजारों लड़कियों की अस्मत को लूटा और उनकी हत्या भी कर डाली।विभाजन की आग में लगभग 15 लाख निर्दोष लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया। यह आजादी लाखों लोगों के खून से रंगकर आईं ।कांग्रेस ने विभाजन के महापाप के साथ -साथ अपनी सत्ता को आज़ादी के बाद भी चिरकाल तक बनाए रखने के लिए बड़ी संख्या में मुसलमानों को पाकिस्तान भेजने की बजाए भारत में ही रोक कर, हमेशा के लिए नासूर पैदा कर दिया। इसी के साथ ही मुस्लिमों को अपना वोट बैंक बनाए रखने के लिए कांग्रेस ने मुस्लिम तुष्टिकरण की नीति को अपनाकर देश का बहुत नुकसान किया।जिन आभागे परिवारों ने इस आजादी के कारण अपने सगे -संबंधियों की हत्या को अपनी आंखों के सामने देखा और हंसते-खेलते अपनेपरिवारों को उजड़ते देखा हो वह कैसे इस दिन को जश्न के रूप में मना सकते हैं ? करोड़ों लोगों को अपने घर -बार छोड़कर अपने ही देश में शरणार्थी बनने का दंश सहना पड़ा,वो इस दिन को कैसे खुशी का दिन माने। देश के बंटवारे के लिए जिम्मेदार नेहरू - जिन्ना भारत /पाकिस्तान के मसीहा और भाग्यविधाता बन गए। अब यह सोचने का विषय है कि ऐसे सत्तालोलूप नेहरू ने, जिसने सत्ता पाने की लालसा के कारण देश का बंटवारा करवाया, हम कैसे उसको शांतिदूत और आधुनिक भारत का निर्माता मान लें? शुकर! इस बात का है कि मोदी सरकार को भी अपनी सरकार के सात वर्ष बीत जाने के बाद ही सही बंटवारे में मारे गए लोगों की याद तो आई औरउसने 14अगस्त को विभाजन में मारे गए लोगों की याद में स्मृति दिवस मनाने का संकल्प लिया।अन्यथा आजादी मिलने के  सात दशक बीत जाने के बाद भी उन लाखों आभागों की याद तो  किसी भी दल की सरकार को नहीं आई ,जिनको 1947 में इस्लामिक जिहादियों ने कत्ल कर दिया था।हमारे पूर्वजों ने अपनी मातृभूमि से अलग होकर जो पीड़ा सहन की उसका एहसास हमें है।मैने अपने पिता के मन मस्तिष्क में विस्थापन की पीड़ा जो उनको अपने जीवन के अंतिम समय तक सालती रही,वह तड़प मेरे दिल को आज भी बेचैन किए हुए है कि हमें हिन्दू होने की बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ी। कांग्रेस की सत्ता पाने की लालसा ने देश को तो टुकड़ों में बांट दिया। विभाजन के मुख्य खलनायक गांधी,नेहरू और जिन्ना की तिकड़ी को भी हम और हमारे जैसे करोड़ों लोग कभी माफ नहीं करेंगे। हम तो हम हमारी आनेवाली भावी पीढियां भी हजारों सालों तक अपने पुरखों से छीनी गई उनकी मातृभूमि, नेहरू गांधी और जिन्ना की सत्ता हथियाने की करतूतऔर इस्लामिक जेहादियों के पाशविक वृति को कभी नहीं भूल सकते। हमारा सैंकड़ों सदियों तक भी अपने पुरखों की मातृभूमि को वापिस पाने का प्रयास जारी रहेगा। हम विभाजन की त्रासदी में मारे गए बेकसूर लाखों लोगों को अपनीअश्रुभरी श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। (वॉयस ऑफ भारत)



Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Feedback  
  
 
     



Related Links
दिल्ली बार कौंसिल के नवनिर्वाचित चेयरमैन श्री राकेश सेहरावत का किया गया हार्दिक अभिनंदन।
दिल्ली (अश्विनी भाटिया)/यहां दिल्ली बार कौंसिल के नवनिर्वाचित चेयरमैन श्री राकेश सेहरावत का स्थानीय अधिवक्ताओं ने नागरिक अभिनंदन किया।समारोह में शाहदरा बार एसोसिएशन के पूर्व सचिव प्रवीण चौधरी विशेष रूप से उपस्थित हुए। ज्ञात हो कि श्री सेहरावत को दिल्ली बार कॉन्सिल का निर्विरोध रूप से चेयरमैन निर्वाच
 
हिन्दु मुसलमानों से अगर कुछ सीख लेते,तो उनको दुर्दिन न देखने पड़ते। -अश्विनी भाटिया
हिन्दुओं को मुसलमानों से कुछ सीखना भी चाहिये न कि सिर्फ उनकी आलोचना ही करनी चाहिए। मुस्लिमों से यह सीखना चाहिए किअपने मजहब् /धर्म को मानने वाले के लिये आवाज उठाना और अपनी बात मनवाने के लिये हिंसा भी करने से पिछे न हटना चाहिए।यही है इसलाम का मूलमंत्र ज़िसकी वजह से इसलाम दुनिया भर में फैल गया गया। हिन्दुओं मे
 
आर एस चौधरी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा जरूरतमंद लोगों को फ्री राशन और राखी का वितरण।
दिल्ली(रमन भाटिया)।यहां गीता भवन,भोलानाथ नगर, शाहदरा में आर एस चौधरी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा लगभग 500 गरीब परिवारों को फ्री राशन और राखी का वितरण किया गया।कार्यक्रम में मुख्य अतिथि पूर्वी दिल्ली नगर निगम के महापौर श्री श्याम सुंदर अग्रवाल जी रहे।
 
देश विभाजन और लाखों लोगों की हत्या के जिम्मेदार गांधी-नेहरू और जिन्ना को हम कभी माफ नहीं करेंगे। -अश्विनी भाटिया आज 15 अगस्त है।आज से 74 वर्ष पूर्व जहां भारत को अंग्रेजी साम्राज्य से मुक्ति मिली,वहीं भारत को विभाजन का दर्द भी मिला।
देश को धार्मिक हिन्दू- मुस्लिम आधार पर दो टुकड़ों में विभाजित करवाने के जिम्मेदार नेहरू और मोहम्मद अली जिन्ना को जहां राजसत्ता मिली वहीं करोड़ों लोगों को अपने ही देश में शरणार्थी बन जाने कीअंतहीन पीड़ा मिली। जहां भारत को विदेशी शासन से मुक्त होने की खुशी तो मिली परंतु,देश को विभाजन का दर्द भी मिला।उस समय
 
ममता ने सभी संवैधानिक मर्यादाओं को किया तार -तार।बंगाल की हिंसा को सरकार का संरक्षण।- विजयवर्गीय
(अश्विनी भाटिया)/ दिल्ली प्रदेश भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में राष्ट्रीय महासचिव और बंगाल के प्रभारी श्री कैलाश विजयवर्गीय ने सुलगते बंगाल विषय पर 'देश के साथ एक संवाद' कार्यक्रम को VC के माध्यम से पार्टी के कार्यकर्त्ताओं को संबोधित किया।
 
भोलानाथ नगर मेन रोड का नामकरण लाला सूरज भान जैन के नाम से किया गया।
शाहदरा(रमन भाटिया)/यहां भोलानाथ नगर मेन रोड( नियर स्टेट बैंक) का नामकरण लाला सूरज भान जैन के नाम पर कर दिया गया। ज्ञात हो कि स्वर्गीय जैन साहब जनसंघ के समय से ही पार्टी के साथ जुड़े हुए थे और पूर्वी दिल्ली के महापौर निर्मल जैन जी उन्हीं के सपुत्र हैं।
 
आर एस चौधरी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा जरूरत मंद परिवारों को किया गया राशन किट का वितरण।
शाहदरा,( रमन भाटिया)। यहां आर एस चौधरी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा श्री नरेंद्र मोदी सरकार के सात वर्ष सफल कार्यकाल के पूर्ण होने पर जरूरत मंद परिवारों को सूखे राशन का वितरण किया गया। ज्ञात हो कि ट्रस्ट द्वारा कोरोना काल में राशन वितरण का यह तीसरा अवसर था। कार्यक्रम में निगम पार्षद संजय गोयल, वरिष्ठ पत्रकार व अ
 
खुद को मिले अन्नदाता के सम्मान की लाज बनाए रखें किसान। नए कृषि कानून उनके नहीं दलालों के विरूद्ध हैं।
दिल्ली (अश्विनी भाटिया)/लोकतंत्र में सभी को अपनी बात रखने और सरकार का विरोध करने का अधिकार है, परंतु यह अधिकार दूसरों के अधिकारों का हनन करने लगे तो फिर कानून की यह जिम्मेदारी बन जाती है कि वह अपनी जिम्मेदारी निभाए। किसानों को सरकार द्वारा बनाए गए नए कृषि कानूनों को लेकर अपना विरोध प्रकट करने का पूरा अधिकार
 
क्यों दिल्ली में भाजपा में हो गई जमीनी और पुराने कार्यकर्ताओं की अनदेखी? क्या भाजपा भी अब कांग्रेस की राह पर चल रही है?
दिल्ली(अश्विनी भाटिया)/दिल्ली में अभी भाजपा ने250 मंडलों पर अध्यक्षों तो की नियुक्ति की है। इन नियुक्तियों से कई जगह पार्टी के निष्ठावान कार्यकर्ताओं में रोष भी है और वह दबी जुबान में अपना दर्द भी और को बता रहे हैं। वास्तविकता तो यह है कि भाजपा के कठिन समय में जिन लोगों ने पार्टी के लिए दिन- रात मेहनत की, कष्ट
 
श्रीराम मंदिर निर्माण ही हमाराअंतिम लक्ष्य नहीं l अपना धर्म/संस्कृति बचाने का संघर्ष जारी रहेगा।
दिल्ली (अश्विनी भाटिया)/हमारा सदियों से चलता आ रहा देव स्थान मुक्ति अभियान राम मंदिर के निर्माण तक ही नहीं रुकना चाहिए। पिछले कई शताब्दियों से हमारी संस्कृति और सभ्यता को नष्ट- भ्रष्ट करनेवाली राक्षसी ताकतें आज भी हमें समूल समाप्त करने की साजिशों में लगी हैं।
 
All Rights Are Reserve @voiceofbharat.in
Site Designed And Developed By Dass Infotech